भोपाल मध्यप्रदेश राजनीति

पत्रकार वार्ता : कांग्रेस नेता ने अशोभनीय टिप्पणी कर संपूर्ण नारी जाति का अपमान किया पूर्व विधायक राजपूत को राहुल गांधी निष्कासित करें

पत्रकार वार्ता : कांग्रेस नेता ने अशोभनीय टिप्पणी कर संपूर्ण नारी जाति का अपमान किया पूर्व विधायक राजपूत को राहुल गांधी निष्कासित करें

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश मंत्री एवं महिला मोर्चा प्रभारी कृष्णा गौर ने कहा कि कांग्रेस नेता गोविन्द राजपूत ने भाजपा विधायक बहन पारूल साहू पर अशोभनीय टिप्पणी कर संपूर्ण नारी जाति का अपमान किया हैजिससे कांग्रेस की महिला विरोधी मानसिकता उजागर हुई है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से महिला मोर्चा ने प्रश्न किया है कि कांग्रेस गोविन्द राजपूत की महिला विरोधी टिप्पणी से वास्ता रखती है अगर वे मानते है कि गोविन्द राजपूत ने गलत बयानबाजी की है तो राजपूत को तत्काल कांग्रेस से निष्कासित करें अन्यथा महिला मोर्चा प्रदर्शन कर उन्हें सार्वजनिक तौर पर माफी मांगने के लिए मजबूर करेगी।

कृष्णा गौर ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा महिलाओं को अपमानित करने का काम किया है। सरला मिश्रा हत्याकांड और नैना साहनी हत्याकांड कांग्रेस की दूषित मानसिकता का प्रत्यक्ष उदाहरण है। उन्होंने कहा कि महिला हित की बात करने वाली कांग्रेस के नेता सार्वजनिक स्थानों पर किस तरह बेटी को अपमानित करते हैयह कांग्रेस नेताओं के बयान से जाहिर होता है।

मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष लता ऐलकर ने कहा कि समाजिक मूल्यों की रक्षा करना भी राजनैतिक दलों का दायित्व है लेकिन कांग्रेस इससे वास्ता नहीं रखती। आए दिन कांग्रेस नेता महिलाओं का अपमान कर कांग्रेस की दूषित मानसिकता को उजागर करते हैं। उन्होंने कहा कि गोविन्द राजपूत ने अपने विधायक कार्यकाल में जनता का अहित किया जिसके कारण उन्हें 2013 के चुनाव में बहन पारूल साहू के हाथों हार का मंुह देखना पड़ा। राजपूत अपनी हार को बर्दाश्त नहीं कर पा रहें है जिसके कारण वे ओछी राजनीति पर उतारू है। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारी ने जिस तरह जनता द्वारा निर्वाचित बहन पारूल साहू पर टिप्पणी की है वह शर्मनाक है। जिसके लिए कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को माफी मांगना चाहिए।

मोर्चा की प्रदेश कोषाध्यक्ष व विधायक पारूल साहू ने कहा कि कांग्रेस पार्टी महिला सम्मान की बात करती है। कांग्रेस पार्टी में सबसे अधिक समय पार्टी अध्यक्ष के रूप में महिला रही लेकिन जिस तरह कांग्रेस पार्टी के नेता ने अशोभनीय टिप्पणी की है वे उससे दुखी है। साहू ने कहा कि गोविन्द राजपूत सुरखी क्षेत्र से पराजित हुए है। वे इस शर्मनाक पराजय को पचा नहीं पा रहे हैं। उन्हें दूसरों पर टिप्पणी करने के बजाए आत्म निरीक्षण कर अपनी विकृतियों से मुक्ति पाने का साहस दिखाना चाहिए। पारूल साहू ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से गोविन्द राजपूत को पार्टी की सदस्यता से निलंबित करने का आग्रह किया।

महिला मोर्चा ने कहा है कि यदि समय रहते गोविन्द राजपूत के दुराचरण के विरूद्ध कांग्रेस द्वारा कार्यवाही नहीं की गयी तो भाजपा महिला मोर्चा कांग्रेस के विरूद्ध अपने आंदोलन की अगली रूपरेखा पर विचार करेगा। मोर्चा महिला आयोग को भी मामला सौंपकर गोविन्द राजपूत के विरूद्ध कार्यवाही की मांग करेगा।

Topics


Pin It on Pinterest

Share This